भाभी का दूध दबा दबा कर पिया पार्ट 1

हाई मेरी सभी सेक्सी antarvasna लड़कियों और kamukta चुदक्कड लडको को सलाम! ये हिंदी पोर्न स्टोरीज़ डॉट कॉम पर पहली कहानी हे. मेरा नाम कुलदीप हे और मैं डिग्री के लास्ट इयर में पढाई कर रहा हूँ. मेरी उम्र 21 साल हे और मैं आसाम से हूँ. मुझे बड़े बूब्स वाली लड़कियां बहुत अच्छी लगती हे. और मेरिड भाभियों के साथ तो चुदाई के अपने अलग ही मजे हे उनके दूध पिने के!मेरी फेमली में मैं, मेरे पापा और मम्मी हे. हमारे पड़ोस में एक मुह्बोले भैया रहते हे. और इस भैया की वाइफ ही इस स्टोरी की हिरोइन हे! हिरोइन का नाम जया हे और वो 29 साल की हे. उसका रंग बड़ा साफ़ हे और हाईट साड़े पांच फिट की हे. उनके बूब्स तो ऐसे थे की कोई देख के अपने लंड को खड़ा करने से रोक न सके. उनका एक 5 महीने का बेटा हे इसलिए अभी चूत भी खुला और बड़ा हे. भाभी का फिगर 40-30-36 और बूब्स तो एकदम फुटबोल जैसे हे! ये थोड़े दिन पहले की बात हे. मैं सेक्स की स्टोरियाँ पढ़ के जान गया था की एक औरत औरत को कैसे चोदा जाता हे! मेरी भाभी घर में सुबह नाईटी पहनती हे और नहाने के बाद में साडी पहनती हे. एक दिन सुबह जया भाभी माँ से बात कर रही थी. और तब उसने ब्लैक और व्हाईट साड़ी पहनी हुई थी. जब मैं वहां से गुजरा तो मुझे उनके निपल्स दिख गए. उन्होंने शायद अंदर ब्रा नहीं पहनी थी. मेरा लंड सांड सा तन गया. मैं मन ही मन सोचने लगा की भाभी को चोद के उसके बूब्स का दूध पिने का बड़ा मजा आ जाए!.

और मुझे बाद में भाभी के करीब होने का चांस मिल गया.

एक दिन माँ नानी के घर पर गई थी. और मेरी पढ़ाई की वजह से मैं नहीं गया था. दोपहर का वक्त था. मैंने कोलेज बंक कर के घर पर ही पोर्न देखने का प्लान बना लिया. दो गली छोड़ के उस्मान भाई के पान कोर्नर से मैं एक ब्लू फिल्म की सीडी किराए पर ले आया. और फिर अन्दर के कमरे में मैंने टीवी और सीडी प्लेयर को जॉइंट किया. वो एक लड़की को 4 बन्दे मिल के कैसे चोदते हे उसका ब्लू फिल्म था. मैं अपने कपडे खोल दिए और नंगा सोफे पर लेट के फिल्म हेडफोन लगा के देखने लगा.

मुझे पता नहीं कब भाभी ने दरवाजा अपने पास की चाबी से खोला और अन्दर आ गई. शायद माँ ने उसे मेरे खाने के लिए कहा था. वो खाने की ट्रे ले के ही आई थी. वो अन्दर तक आ गई और मैं लड़की के दोनों छेद को साथ में चुदते हुए देख के बड़ा व्यतीत सा था. पता ही नहीं चला!

भाभी ने थोड़े जोर से कहा, अरे बाप रे कुलदीप तुम और ये सब!!!!

मेरी गांड फट गई. मैंने सीडी प्लेयर को फटाक से बंध किया. मैं भाभी से नजरें नहीं मिला पा रहा था. न ही मेरे अन्दर उसके साथ बात करने की हिम्मत थी. उसने खाने की ट्रे को मेज पर रख दिया और मेरे पास आई. उस दिन पहली बार भाभी के बड़े बूब्स देख के मेरा लंड खड़े होने की जगह पर सो गया! शायद मेरी गांड फटी पड़ी थी इसलिए.

भाभी करीब आई तो मुझे डर सा लगा. उसने मुझे कहा, तुम इतने बड़े कब से हो गए. और ऐसी ब्ल्यू फिल्म्स कब से देखते हो?

मैं कुछ नहीं बोला, भाभी ने सोफे पर बैठ के नोटी सी स्माइल दी. तब जा के मेरे अन्दर की दबी हुई साँस थोड़ी खुली. वो बोली, मम्मी को बताऊँ क्या तुम्हारी?

मैं उनके पैर में गिर सा पड़ा, प्लीज़ भाभी ऐसा मत करना!

भाभी ने मेरे चहरे को अपने हाथ से पकड़ के ऊपर किया. और बोली, बदले में तुम क्या करोगे?

अब पता चला की ये रंडी भाभी तोल मोल पर आ गई थी. मैंने बहुत सब Hindi sex stories पढ़ी हे इसलिए मैं जान गया की वो क्या कहना चाहती थी. लेकिन मैंने भोले बनते हुए कहा, आप क्या करवाना चाहती हे मेरे से?

भाभी ने अपनी टाँगे खोली, उसके पेटीकोट का भाग मुझे दिखा. लंड के अंदर फिर से उर्जा का संचार होने लगा था. भाभी ने मुझे कहा, चाटेगा मेरी?

बाप रे इतना सीधा इनविटेशन! मैं कहा, चाटूंगा ना. और आप कहो तो अंदर डाल भी दूंगा!

चल फिर पहले जबान का काम दिखा.

मैंने कहा, आप कपडे उतार दो ना.

भाभी ने कहा पहले इस फिल्म को चालू कर.

मैंने भाभी के सामने अपने लौड़े को खुजाया और ब्ल्यू फिल्म वापस से ओन कर दी.

भाभी ने अपनी साडी, पेटीकोट, ब्रा और पेंटी सब एक ही मिनिट के अन्दर खोल दिया. जैसे वो मेरे से ज्यादा होर्नी हुई पड़ी थी. फिर उसने मुझे कहा की तुम भीनंगे हो जाओ कुलदीप.

मैंने कहा ओके.

और फिर मैं भी भाभी के सामने पूरा न्यूड हो गया. भाभी ने मेरे लंड को देखा और बोली, हिला हिला के लम्बा कर रखा हे तूने?

मैं हंस पड़ा और कहा, आप के नाम पर भी बहुत हिला हे ये.

भाभी मेरे करीब आ गई और उसने मुझसे सट के मेरे लंड को छु लिया. बदन के अन्दर से जैसे 440 वोल्ट का करंट दौड़ गया. मैंने भाभी को अपनी बाहों में भर लिया. मेरा लंड उसकी चूत को टच कर रहा था और उसके अन्दर की गर्मी मेरे लंड को खूब महसूस हो रही थी. मैंने कहा, आप का दूध पीना हे मुझे!

ले पी ले, ऐसा कह के भाभी ने अपनी एक निपल मुझे मुहं में दे दी.

मैंने उसे चुसी, तो सच में अन्दर से गाढ़ा दूध बहार आ गया. भाभी अपने बोबे को हाथ से दबा रही थी और दूध मुझे पिला रही थी. भाभी ने फिर अपना बोबा बदल दिया और बोली, सब मत पी लेना मेरे बच्चे के लिए भी बचाना!

मैंने कुछ दूध पिने के बाद भाभी को कहा, आप को दूध पीना हे?

भाभी बोली, तुम लोगो का दूध थोड़ी होता हे तुम लोगो को तो मलाई आती हे!

मैंने कहा, फिर मलाई खा लो आप मेरी!

भाभी हंस पड़ी और वो अपने घुटनों पर बैठ गई. लोडे को हाथ से हिलाते हुए वो उसे किस देने लगी. सच में बड़ा हॉट सिन था वो! भाभी के निपल्स का दूध पी के मेरे लोड़े में जैसे और भी ताजगी आ गई थी. और जबब उसने मलाई खाने की बात कही तो मैं खिल सा गया!

भाभी ने मेरे लंड को अपन हथेली में भर के दबा दिया. और फिर बड़े ही सटीक ढंग से वो उसे हिलाने लगी. मेरे सुपाडे को बड़ी ही मादक नजर से देख रही थी वो. और फिर उसने अपने मुहं को खोला….. वाआऊउ होर्नीनेस सा लगा मुझे और और मैंने माथे को पकड के लंड पर दबा दिया. भाभी ने पुरे लंड को एक ही दफा में अपने मुहं में भर लिया. मैं कुछ बोल नहीं पाया और भाभी जी लोडे को ऊपर निचे, आगे पीछे सब जगह चूसने लगी!